जुर्म क्या था हमारा?

इन मासूम नज़रों में दहकते सवाल हैं अनेकों हाँ ये मर चूके हैं मगर ज़िन्दों से ज़्यादा सवाल मुर्दे पूछते हैं क्योंकि उन्हें कोई ख़ौफ़ नहीं होता है, और आज ये पूछ रहें हैं किसने मारा हमें और जुर्म क्या था हमारा? तो शायद यही जवाब होगा ••• सबसे बड़ा जुर्म है इस दुनिया में … Continue reading जुर्म क्या था हमारा?

आँखें उसकी…

वो बात नहीं करता लवों से पर उसका क्या जो आँखें उसकी इतना कुछ कह जाती हैं ढूँढती हैं थक जाती हैं देख के चेहरे को एक ही क्यूँ सुकून पाती हैं कभी शिकायत करती हैं कभी अपनापन जताती हैं तो कभी फेंर के नज़रों को नाराज़ भी हो जाती हैं वो चुप खड़ा रहता … Continue reading आँखें उसकी…

फिर क्या

घर से निकला था कुछ करने को भीड़ से अलग होने को पर जिस भी ओर अकेले चलने को सोचा सामने एक मजमा पहले से खड़ा पाया, फिर क्या वहाँ रूकता तो मैं कहाँ रहता गुम हो जाता या किसी के पैरों तले कुचला जाता इसी डर से वापस घर लौट आया @NidhiSuryavansi